BreakingDesh VideshDharm AdhyatmHARIDWARUttarakhand

कांवड़ यात्रा में शिव के भक्तों की मुस्लिम कर रहे है सेवा, मुस्लिमो की शिव भक्ति बनी हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल

हरिद्वार,
 
हिंदुओ की सबसी बड़ी आध्यात्मिक और धार्मिक यात्रा कांवड़ यात्रा। यानी आस्था, श्रद्धा और विश्वास की अनूठी मिसाल। कांवड़ इसके साथ ही भाई चारे और गंगा जमुनी तहजीब की भी मिसाल है। हजारो की संख्या में कांवड़ यात्रा में श्रद्धालु हरिद्वार से गंगा जल लेने आ रहे है। भोले के इन भक्तों की सेवा में हिन्दू ही नही बल्कि मुस्लिम भी बड़ी संख्या में जुटे हुए है।
    मुस्लिम समाज के लोगों ने कांवडियों के लिए शिविर का आयोजन किया इस शिविर में बडी संख्या में जुटे मुल्सिम समाज के लोगो ने थके हारे कांवडियों को भोजन सामग्री वितरित की।  एकता और भाईचारे की ये मिसाल देश और समाज को सांप्रदायिकता की आग में झोंकने वालों के मुंह पर एक जोरदार तमाचा है
कांवड़ियों की सेवा करते हुए मुस्लिम।
 

यूं तो हरिद्वार में चल रहे कांवड मेले में धार्मिक आस्था के एक से बढ कर एक रंग देखने को मिल रहे हैं। ये कांवड मेला हमारी गंगा जमुनी तहजीब, एकता और भाईचारे की भी अद्भुत मिसाल देश भर में पेश कर रहा है। यहां चल रहे कांवड मेले में मुस्लिम समाज के सैकडों लोग दिन रात एक कर शिविर लगाकर कांवडियों की सेवा कर रहे हैं। पिछले कई सालों से मुस्लिम समाज यहां आने वाले कांवडियों के लिए शिविर का आयोजन करता आया है। बोल बम- बोल बम के जयकारों के बीच हर की पौडी से गंगाजल लेकर लौट रहे थके हारे कांवडियों को खाद्य सामग्री वितरित करने में लगे हैं।

जिला पंचायत के उपाध्यक्ष राव आफाक का कहना है कि भोले शिव के भक्त हरिद्वार आ रहे है और हरिद्वार हमेशा से हिन्दू और मुस्लिमो के आपसी प्रेम के लिए हमेशा से ही मिसाल बनाता रहा है। उंन्होने कहा कि भोले के भक्त हमारे मेहमान है और हमे मेजबान के रूप में इनकी सेवा करने का सौभाग्य मिल रहा है ये हमारे लिए गर्व की बात है। नईम कुरेशी भी भोले के भक्तों की सेवा को शिव की भक्ति के रूप में देख रहे है। अरशद ख्वाजा भी अपने साथियों के साथ कांवड़ियों की सेवा में लगे हुए है।उनका कहना है कि दूर दूर से आ रहे कांवडियों की सेवा करना उनके लिए अल्लाह की नेमत है और इसीलिए वे दिन रात लगातार कांवडियों की सेवा कर रहे हैं।

हरकी पौडी से बोल बम के जयकारों के बीच गंगाजल लेकर लौट रहे कांवडियों ने भी मुस्लिस समाज की इस पहल को अभूतपूर्व बताया है। गाजियाबाद से आये कांवड़िए जगप्रीत सिंह और गुरुचरण सिंह का कहना है कि एक ओर जहां हिन्दू और मुस्लिम समाज के लोगों के बीच खाई बढाई जाती है ऐसे में मुस्लिम समाज की ये पहल काबिले तारीफ है।

मुस्लिम समाज की ये पहल एकता भाईचारे की अनूठी मिसाल पेश कर रही है। मुस्लिमो की शिव भक्तों की यह सेवा की भावना राष्ट्र भावना को मजबूती प्रदान करेगी।  मुस्लिमो की शिव भक्तों की सेवा उन लोगों के लिए सबक भी है जो निजी स्वार्थ के चलते हिन्दू- मुस्लिम को आपस में लडाने का काम करते हैं।

Show More

Related Articles

Close